Bharat ka pratham governor general kaun tha | भारत का प्रथम गवर्नर जनरल कौन था?

bharat ka pratham governor general kaun tha :- दोस्तों जब आप हमारे देश भारत के आजादी का इतिहास पढ़ेंगे तो उसमें आपको अंग्रेजों के बारे में अवश्य पढ़ने को मिलेगा और अंग्रेजों के साथ-साथ जनरल गवर्नर के बारे में भी पढ़ने को मिलेगा ।

इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे की आखिर भारत का प्रथम गवर्नर जनरल कौन था। और governor-general किसे कहते हैं और गवर्नर जनरल का मुख्य उद्देश्य क्या होता था तो चलिए शुरू करते हैं इस आर्टिकल को बिना देरी किए हुए

bharat ka pratham governor general kaun tha | भारत का प्रथम गवर्नर जनरल कौन था?

लोर्ड विलियम बेंटिक (Lord William Bentic) भारत का प्रथम गवर्नर जनरल था। भारत के गवर्नर जनरल पद पर लोर्ड विलियम बेंटिक का कार्यकाल 1828 से 1835 तक रहा था।

लोर्ड विलियम बेंटिक का इतिहास काफी पुराना रहा है यह शुरू से ही गवर्नर जनरल के पद पर एक जगह से दूसरे जगह पर ट्रांसफर होते रहे हैं। सबसे पहले यह 1803 में मद्रास के गवर्नर जनरल के पद पर ब्रिटिश से इंडिया आये थे, उसके बाद इन्हें बंगाल का गवर्नर जनरल बनाया गया यहाँ पर कुछ दिनों तक काम करने के बाद इन्हें पूरे भारत का गवर्नर जनरल बना दिया गया।

ऐसा माना जाता है कि लोर्ड विलियम बेंटिक एक उदारवादी और सुधारवादी विचार के व्यक्ति थे और उन्होंने भारत में कई सारे सूचनात्मक सुधार किये, जिसके वजह से यह आज भी जाने जाते हैं। इन्होंने सती प्रथा का अंत करने में अपना अहम भूमिका निभाया है और ऐसा माना जाता है कि इनके द्वारा बिल पारित करने पर सती प्रथा की अंत हुई थी।

गवर्नर जनरल किसे कहते है | governor general Kya Hota Hai ?

गवर्नर जनरल का इतिहास हमारे देश भारत से जुड़ा हुआ है आपको मालूम होगा कि अंग्रेज हमारे देश भारत में सबसे पहले व्यापार के उद्देश्य से आए थे मगर वह यहां पर छोटे-छोटे क्षेत्रीय राजाओं से युद्ध करके धीरे-धीरे जगह जमीन को हड़पने लगे और यहां पर अपनी शासन चलाने की कोशिश करने लगे और हुकूमत करने लगे उन्होंने अपना दबदबा लगभग आधे से ज्यादा भारत पर बना लिया था और उनको भारत पर पूरी तरह से शासन करने के लिए एक राजा की जरूरत होती थी।

अब आपको मालूम होगा कि इंग्लैंड में वहां की रानियां शासन करती थी और एक रानी इतने सारे देशों को कैसे संभाल पाती इसलिए वहां से कुछ गवर्नर जनरल को हमारे देश भारत में भेजा गया ताकि, वह यहां पर अपना शासन चला सके और बिल्कुल ऐसा ही हुआ हमारे देश भारत में लगभग तीन जगह पर छोटे-छोटे governor-general बैठाए गए।

और उन्हीं को भारत पर शासन करने का आदेश दिया गया और भारत में जो भूत भी बिल पारित किया जाता था या कोई भी चीज लागू किया जाता था तो उसे लागू करने के लिए सबसे पहले उस दस्तावेज पर गवर्नर जनरल की हस्ताक्षर जरूरी होती थी।

तो कुछ भी प्रकार से ही गवर्नर जनरल की जरूरत है हमारे देश में पड़ी थी लेकिन जब देश हमारा आजाद हुआ तब भी हमारे खुद के गवर्नर जनरल रहने लगे और उनके द्वारा ही शासन किया जाने लगा।

भारत का अंतिम गवर्नर जनरल कौन था? 

भारत का अंतिम गवर्नर जनरल चक्रवर्ती राजगोपालाचारी थे, यह पूर्ण रूप से भारतीय थे और यह भारत के हित में काम करते थे इन्हें आजाद भारत का सबसे अंतिम गवर्नर जनरल भी कहा गया है।  भारतीय गवर्नर जनरल पद पर इनका कार्यकाल 1878 से ले कर के 1972 वर्ष तक रहा था।

ऐसा माना जाता है कि चक्रवर्ती राजगोपालाचारी जी ने भी भारत के आजादी में अपना अहम भूमिका निभाया है । चक्रवर्ती राजगोपालाचारी जी एक general governor के साथ-साथ रचनाकार भी थे। और यह पुस्तक भी लिखते थे उनके द्वारा लिखा गया कई सारे पुस्तक आज भी मार्केट में मौजूद है और उसे आप खरीद कर काफी आसानी से पढ़ भी सकते हैं और उनके विचारधाराओं को जान सकते हैं।

FAQ,s

Q1. भारत के अंतिम वायरस कौन थे?

Ans. लॉर्ड माउंटबैट भारत के अंतिम वायरस थे।  भारत के वायरस के पद पर इनका कार्यकाल 12 फरवरी, 1947 से ले कर के 21 जून, 1948 तक रहा था।

Q2. गवर्नर जनरल किसे कहते हैं ?

Ans. गवर्नर जनरल, एक कार्यालय-धारक का शीर्षक है। गवर्नर-जनरल और पूर्व ब्रिटिश उपनिवेशों के संदर्भ में, गवर्नर-जनरल को किसी भी संप्रभु राज्य में एक व्यक्तिगत संघ के सम्राट का प्रतिनिधित्व करने के लिए वायसराय के रूप में नियुक्त किया जाता है, जिस पर वह आम तौर पर व्यक्तिगत रूप से शासन नहीं करता है। बल्कि वहां के सत्ता को संभालता है और अपने हिसाब से शासन के कार्यों को करवाता है।

Q3. भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर कौन है?

Ans. फिलहाल के समय में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर “शक्तिकांत दास” जी है। ऐसा माना जाता है कि “शक्तिकांत दास” जी 10 दिसंबर 2018 को रिजर्व बैंक के 25वे governor बने थे।

Q4. वायसराय किसे कहते हैं?

Ans. एक वायसराय एक अधिकारी होता है जो क्षेत्र के सम्राट के प्रतिनिधि के रूप में और उसके नाम पर एक राजनीति चलाता है। यह शब्द लैटिन उपसर्ग वाइस- से निकला है, जिसका अर्थ है “के स्थान पर” और फ्रांसीसी शब्द रॉय, जिसका अर्थ हिंदी में “राजा” होता है।

Q5. भारत का प्रथम गवर्नर जनरल कौन था?

Ans. भारत का प्रथम गवर्नर जनरल लोर्ड विलियम बेंटिक (Lord William Bentic) था।

WatchThis :-

video Source By :- GK Ghar
( अंतिम शब्द )

उम्मीद करता हूं, कि आप को मेरा यह लेख बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से भारत का प्रथम गवर्नर जनरल कौन था, के बारे में जानकारी प्राप्त कर चुके होंगे। हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको भारत का प्रथम गवर्नर जनरल के बारे में बताया है।

Also Read :-

Leave a Comment